भारत का राष्‍ट्रीय गान- Jana Gana Mana lyrics-रविंद्रनाथ टैगोर-जन गण मन :

भारत का राष्‍ट्रीय गान- Jana Gana Mana lyrics-रविंद्रनाथ टैगोर-जन गण मन : Hindisonglyric.in में आपका स्‍वागत है, भारत के राष्‍ट्रीय गान जन गण मन है जोकि मूलत: बंगाली भाषा में लिखा गया है । जन-गण-मन Jana-Gana-Mana की रचना भारत के प्रथम नोबेल पुरस्‍कार विजेता गुरुदेव रवींद्रनाथ टैगोर ने किया है । इसे पहली बार 27 दिसंबर 1911 में कांग्रेस के कलकत्‍ता अधिवेशन में गाया गया था । जन-गण-मन को संविधान सभा ने भारत के राष्ट्रगान के रूप में 24 जनवरी 1950 को अपनाया गया था ।
jana-gana-mana-lyrics
राष्‍ट्रीय गाान

Jana Gana Mana with lyrics




जन-गण-मन अधिनायक जय हे,
JANA-GANA-MANA-ADHINAYAKA JAYA HE

भारत भाग्य विधाता !
BHARATA-BHAGYA-VIDHATA

पंजाब-सिन्धु-गुजरात-मराठा,
PANJABA-SINDHU-GUJARATA-MARATHA

द्रविड-उत्कल-बंग
DRAVIDA-UTKALA-BANGA

विंध्य हिमाचल यमुना गंगा,
VINDHYA-HIMACHALA-YAMUNA-GANGA

उच्छल जलधि तरंग
UCHCHALA-JALADHI-TARANGA

तब शुभ नामे जागे,
TABA SUBHA NAME JAGE,

तब शुभ आशिष माँगे
TABA SUBHA AASISA MANGE,

गाहे तब जय गाथा। 
GAHE TABA JAYA-GATHA.

जन-गण-मंगलदायक जय हे,
JANA-GANA-MANGALA-DAYAKA JAYA HE

भारत भाग्य विधाता !
BHARATA-BHAGYA-VIDHATA.

जय हे ! जय हे ! जय हे !
JAYA HE, JAYA HE, JAYA HE,

जय जय जय जय हे!
JAYA JAYA JAYA JAYA HE


Tags: jana gana mana lyric, jana gana mana lyrics, jana gana mana with lyrics, lyric of jana gana mana, jana gana mana lyrics in English, jana gana mana song lyrics, lyrics for jana gana mana, jana gana mana adhi, jana gana mana with lyrics, jana gana mana lyrics , jana gana mana, jana gana mana song, jana gana mana adhinayaka jaya hai, jana gana mana adhinayaka jaya hai bharat bhagya vidhata,

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां